Sana Marine

सना मारिन: दुनिया की सबसे कम उम्र की प्रधानमंत्री

शेयर करे

34 साल की उम्र में सना मारिन दुनिया की सबसे युवा प्रधानमंत्री बनने जा रही हैं. वो फ़िनलैंड में महिलाओं के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार की प्रमुख होंगी. परिवहन मंत्री रहीं सना को प्रधानमंत्री एंटी रिना के इस्तीफ़े के बाद सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ने प्रधानमंत्री पद के लिए चुना है. इस सप्ताह वो शपथ ले सकती हैं. वो पांच पार्टियों के मध्य-वामपंथी गठबंधन का नेतृत्व कर रही हैं. इन सभी पार्टियों की अध्यक्ष महिलाएं हैं.

देश में डाक हड़ताल से निपटने के मामले पर एंटी रिना ने गठबंधन का विश्वास खो दिया था और उन्हें पद छोड़ना पड़ा था.

सना मारिन जब अपना पदभार संभालेंगी तब वो दुनिया की सबसे युवा प्रधानमंत्री होंगी. अभी न्यूज़ीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न की आयु 39 वर्ष और वहीं यूक्रेन के शीर्ष नेता ओलेक्सी होंचरुक की उम्र 35 वर्ष है.

 

कौन हैं सना मारिन?

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सना मारिन का पालन-पोषण ‘रैनबो फ़ैमिली’ (एक प्रकार का हिप्पी समूह) में हुआ. वो किराए के एक अपार्टमेंट में अपनी मां और उनकी महिला पार्टनर के साथ रहती थीं. अपने परिवार की वो पहली शख़्स थीं जो विश्वविद्यालय तक गईं. सोशल डेमोक्रेट्स में सना मारिन बहुत तेज़ी से उभरीं और उन्होंने 27 साल की उम्र में टेम्परे शहर के प्रशासन का नेतृत्व किया और 2015 में वो सांसद बनीं.

जून तक वो परिवहन और संचार मंत्री थीं और उनकी 22 महीने की एक बेटी है.

स्कैंडिवेनाई देश में सना मारिन तीसरी महिला प्रधानमंत्री हैं. अप्रैल में हुए चुनाव में सोशल डेमोक्रेट्स सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी और इसी कारण गठबंधन सरकार का प्रधानमंत्री इसी पार्टी से होगा. पार्टी ने 32 वर्षीय कातरी कुलमुनी का नाम वित्त मंत्री के लिए तय किया है. गठबंधन की पांच में से चार महिला नेता 35 वर्ष से कम आयु की हैं.

यूरोपीय संघ का अध्यक्ष पद इस समय फ़िनलैंड के पास है और ऐसी उम्मीद है कि ब्रसेल्स में 12 दिसंबर को यूरोपीय संघ सम्मेलन से पहले फ़िनलैंड में नई सरकार बन जाएगी.


शेयर करे